Tuesday, March 10, 2020

What is On Page Optimization in Hindi ?

On Page Optimization Kya Hota Hai ?

Q. What is On Page Optimization in Hindi ?

On Page Optimization के अंतर्गत हमें अपनी website या web page को इस प्रकार से optimize करना होता है। कि जिससे हमें अपने website को किसी भी Search Engine या Google Search Engine में अपनी वेबसाइट को आसानी से Top में Rank करा सकें।

क्योकि अक्सर हम ज्यादातर Google के पहले ही Page से Satisfy हो जाते हैं। इसी कारण हमारा मुख्य उद्देश्य होता है कि हमारी website Google के First Page पर rank करने लगे।

अपनी Website के On Page Optimization के लिए हमें निम्नलिखित कुछ Steps को Follow करना होता है -


१. Domain Name : हमें Domain Name खरीदने से पहले Research करना चाहिए जिससे हमारा Keyword अगर यदि Domain Name में आता है तो हमें रैंकिंग में आसानी होती है।

२. Layout : हमें अपनी Website का Layout इस प्रकार से Design करना होता है जिससे हम यदि Mobile में अपनी Website Open करते है तो Mobile के Size के हिसाब से दिखे और यदि किसी और Device में जैसे (tablets, Laptops, Desktop) में open करें तो उसी हिसाब से दिखायी दे। 

       किसी Website का Layout जितना अच्छा होता है उसे रैंक करना उतना ही आसान होता है।

३. Content : अक्सर आपने सुना होगा " Content is the king " मतलब Content राजा होता है , यदि आपका कंटेंट जितना अच्छा होगा आपकी वेबसाइट को गूगल उतनी ही ज्यादा priority देगा। क्योकि गूगल हमेशा अपने users को अच्छा कंटेंट provide कराना चाहता है।

४. Title : Title हमेशा हमारे Article की H1 Heading की तरह प्रयोग किया जाता है। आपको हमेशा कोशिश करना चाहिए कि हमारा कीवर्ड आर्टिकल के Title में अवश्य आये। जिससे आपके वेबसाइट के रैंकिंग आसानी से मिल सके। 

हमेशा Title 50-60 Char का होना चाहिए। जिससे कि Search Engine Result Pages में पूरी तरह से दिखाई दे।  
५. Description : हमेशा आपके Article का Description 50-300 Character का होना चाहिए। जब हम Search Engine Result Pages में डिस्क्रिप्शन देखते हैं तो इसका मतलब होता है कि हमारा Article किस तरह का है। 
क्योकि यूजर को हम Title और Description से ही बता सकते हैं कि हमारा आर्टिकल किस प्रकार की जानकारी देता है। 

६. Permalink : Permalink हमारी वेबसाइट का यूआरएल होता है। हमें सदैव Permalink में Keyword को जरूर Use करना चाहिए और कोशिश करना चाहिए कि यूआरएल में कम से कम Words को प्रयोग करें। 

७. Internal and External Linking :
८. Images with Alt Attribute : 
९. Videos :
१०. Keyword Density :

No comments:

Post a Comment